बिहार के बाद अब महाराष्ट्र से जुड़े नीट पेपर लीक के तार, हिरासत में लिए गए 2 शिक्षक

1 min read

Mumbai: नीट पेपर लीक मामले में बिहार कनेक्शन के बाद अब महाराष्ट्र कनेक्शन सामने आया है. नांदेड़ एटीएस ने महाराष्ट्र के लातूर से दो शिक्षकों को हिरासत में लिया है. एटीएस को संदेह है कि दोनों शिक्षक नीट पेपर लीक मामले में शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें- 

संदेह के आधार पर दोनों शिक्षकों को शनिवार रात हिरासत में लिया गया और उनसे पूछताछ की जा रही है. हिरासत में लिए गए दोनों शिक्षक लातूर में निजी कोचिंग क्लास भी चलाते हैं. आरोपी शिक्षकों में से एक लातूर और दूसरा सोलापुर में कार्यरत बताया जा रहा है. शिक्षकों के नाम संजय तुकाराम जाधव और जलील उमरखान पठान हैं. दोनों जिला परिषद स्कूलों में शिक्षक हैं.

बिहार पुलिस ने शुक्रवार रात झारखंड के देवघर जिले से छह और लोगों को हिरासत में लिया. पिछले महीने बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने कथित पेपर लीक के सिलसिले में मुख्य संदिग्ध सिकंदर यादवेंदु समेत 13 लोगों को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने कहा कि वह इस मामले में आरोपियों का ‘‘नार्को टेस्ट” और ‘‘ब्रेन मैपिंग” कराने की संभावना भी तलाश रही है. सूत्रों ने यह संकेत भी दिया कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मई में एनटीए द्वारा आयोजित मेडिकल प्रवेश परीक्षा में कथित अनियमितताओं के धनशोधन पहलू की जांच कर सकता है.

दूसरी ओर ईओयू ने एनटीए से नीट-यूजी 2024 के संदर्भ प्रश्न पत्र प्राप्त किए हैं, जिनकी पिछले महीने पटना में तलाशी के दौरान एक फ्लैट से बरामद किए गए कागजातों से तुलना की जाएगी. सूत्रों ने शनिवार को यह जानकारी दी.

प्रतियोगी परीक्षाओं में कथित विसंगतियों को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रही केंद्र सरकार ने शनिवार को राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) के महानिदेशक सुबोध सिंह को हटा दिया और मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट-यूजी में अनियमितताओं की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी.

 

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours