बुंडू बस लूटकांड का खुलासा, चार अपराधी गिरफ्तार,  11 लाख रुपए नगद सहित हथियार बरामद

1 min read

Bundu: बीते16 जनवरी की सुबह कलकता से रांची आ रही शिवम बस में सवार तीन सब्जी व्यापारियों (मैसेंजर) से लूटकांड का रांची पुलिस ने खुलासा किया है. दरअसल यह पूरा मामला 25 लाख रुपये की चलती बस में हथियार के बल पर लूट को लेकर है जब शिवम बस में चलती बस के अन्दर चार अज्ञात अपराधियों के द्वारा हथियार एवं चाकू के बल पर मारपीट एवं जख्मी करते हुए दशमफॉल थाना अंतर्गत नवाडीह के पास कुल 18 लाख रुपये की लूट की घटना को अंजाम दिया गया था। जिसके बाद रांची पुलिस उक्त अपराधी द्वारा बस में फायर करते हुए जंगल तरफ भाग गए थे.

इस सम्बन्ध में एक सब्जी व्यापारी (मैसेंजर) तौफीक आलम, पिता- अबुल हसन, पता- इटकी, रांची के फर्दबयान के आधार पर प्रासंगिक कांड दर्ज किया गया था। जिसके बाद पुलिस अधीक्षक ग्रामीण, रांची के निर्देश में एक विशेष SIT का गठन किया गया जो तकनिकी एवं मानवीय इनपुट के आधार पर इस घटना को अंजाम देकर और उसके षड्यंत्र में शामिल कुल 04 अपराधियों को गिरफ्तार किया है तथा उक्त अपराधियों के निशानदेही पर घटना में लुटे गए कुल 11,61,000 रुपये नगद और घटना में प्रयुक्त एक देशी कट्टा तथा 18 जिन्दा गोली, चाकू, एक हथौड़ा एवं मोबाइल फोन को जप्त किया गया है। घटना में शामिल अन्य चार अपराधी फ़िलहाल फिरार है एवं उनकी गिरफ़्तारी का प्रयास किया जा रहा है।

कैसे दिया गया था घटना को अंजाम

दरसल इस घटना को अंजाम देने के लिए दो दिन पहले से ही तैयारी की गयी थी जिसमें घटना से दो दिन पहले यानी 14 जनवरी को अभियुक्त शहजान अंसारी और इफ़्तेख़ार उर्फ़ रोबर्ट तीनों सब्जी व्यापारियों के पीछे कोलकत्ता बस से गए। उसके बाद दिनांक 15 जनवरी को शाम में 09 बजे तीनों कारोबारी रांची आने वाली शिवम बस में पैसा लेकर बैठे तो इफ़्तेख़ार उर्फ़ रोबर्ट व्यापारियों को शहजान अंसारी से पहचनवा दिया और उसके बाद एक अभियुक्त शहजान अंसारी भी उसी शिवम बस में बाबुघाट गोलचक्कर के पास बैठ गया जबकि दूसरा अभियुक्त इफ़्तेख़ार उर्फ़ रोबर्ट उसके पीछे बाबा बस में बैठ गया। बाबा बस जब सुबह में तमाड़ पहुंची तब रोबर्ट बस से उतर गया और दूसरा गाडी से रांची चला गया। इटकी का जबीउल्लाह, सिसई गुमला का शमीम अंसारी एवं अन्य 04 अभियुक्त पिकअप में हाजी चौक रांची में बैठकर हथियार के साथ सुबह करीब 4 बजे बुंडू पहुँच गए।

जब 16 जनवरी की सुबह में करीब साढ़े पाँच बजे जब शिवम बस बुंडू ओवर ब्रिज के पास यात्री बैठाने के लिए रुकी तो शमीम अंसारी एवं अन्य दो अभियुक्त भी हथियार के साथ सामान्य यात्री की तरह शिवम बस में चढ़ गए जिसमे शहजान कलकता से आ रहा था और सब्जी कारोबारी बैठे हुए थे। जैसे ही बस बुंडू टोल पार किया तब बस में सवार अपराधी 1. शहजान अंसारी, 2. शमीम अंसारी एवं अन्य दो अपराधियों ने हथियार के बल पर तीनों सब्जी कारोबारी के साथ लूटपाट करना शुरू कर दिया.

इस दौरान विरोध करने पर एक अपराधी ने चाकू से सब्जी कारोबारी मो० सईद के पैर पर वार कर जख्मी कर दिया लूटपाट की घटना के दौरान एक अपराधी ने बस के चालक और खलासी को देशी कट्टा के बट से सर में मारकर जख्मी कर दिया तथा दहशत फैलाने के लिए कट्टा से एक राउंड फायर भी कर दिया.

लूटपाट करने के बाद सभी चारों अपराधी पैसा लेकर बस से उतरकर जंगल तरफ भाग गए और कुछ देर बाद जबिउलाह एवं अन्य दो अपराधी पिकअप लेकर घटनास्थल से पहले आये जिसमें लूट पाट करने वाले सभी अपराधी बैठकर रांची तरफ भाग गए। रांची जाने के बाद सभी अपराधियों ने पैसा को आपस में बाँट लिया। गिरफ्तार सभी अपराधी अपने-अपने अपराध स्वीकारोक्ति बयान इस घटना में करीब 25 लाख रुपया लूटने की बात स्वीकार किये है।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours