शहीद मैदान में सोमवार को न्याय यात्रा में हुंकार भरेंगे राहुल गांधी, गुलाम अहमद, आलमगीर आलम की भी होगी भागीदारी

Ranchi: सोमवार को कांग्रेस के टॉप लीडर और सांसद राहुल गांधी भारत जोड़ो न्याय यात्रा के क्रम में रांची में होंगे. झारखंड में पिछले तीन दिनों से लगातार यह यात्रा हो रही. पाकुड़ से शुरू हुई यह यात्रा देवघर, धनबाद, बोकारो होते हुए सोमवार को राजधानी रांची में प्रवेश करेगी. इस यात्रा के दौरान वे केंद्र सरकार को भी निशाने पर ले रहे हैं. प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रभारी राकेश सिन्हा के मुताबिक, यह यात्रा बूटी मोड, बरियातू, हरमू होते हुए शहीद मैदान, धुर्वा पहुंचेगी. उसके उपरांत वे वहाँ जनसभा को संबोधित करेंगे. इस जनसभा में झारखंड प्रभारी गुलाम अहमद मीर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजेश ठाकुर, कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम सहित प्रदेश के तमाम पदाधिकारी, कार्यकर्ता, जिला अध्यक्ष, अग्रणी मोर्चा के अधिकारी और दूसरे लोगों की सहभागिता होगी.

कांग्रेस पार्टी जल, जंगल और जमीन को बचाने की पक्षधर

राहुल गांधी के नेतृत्व में चलायी जा रही भारत जोड़ो न्याय यात्रा रविवार को गोविंदपुर मोड़, धनबाद से प्रारंभ हुई. बिरसा मुंडा चौक बैंक मोड़, जोधाडीह मोड़, राजेंद्र नगर होते बोकारो स्टील सिटी, जैना मोड़, गोला होते हुए रामगढ़ पहुंची. अपनी न्याय यात्रा के क्रम में विभिन्न जगहों पर लोगों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी जल, जंगल और जमीन को बचाने की पक्षधर है. सरकारी उपक्रमों से आदिवासियों, दलितों और ओबीसी समुदाय को सबसे ज्यादा रोजगार मिला करता था. आज उपक्रमों को केंद्र सरकार द्वारा बेचा जा रहा है. जो बच गए हैं, उन्हें बेचने की कोशिश की जा रही है. देश में बेरोजगारी इतनी चरम पर है जो पिछले 45 वर्षों में कभी नहीं रही. फिर भी अंधी, बहरी केंद्र सरकार चुपचाप तमाशा देख रही है. अपने पूंजीपति मित्रों को लाभ पहुंचा रही है. अगर देश की जनता अब भी नहीं चेती तो हो सकता है कि अगली बार तानाशाह सरकार हमें मतदान करने का भी मौका ना दे. मोदी देश के युवाओं को बेरोजगार रखकर प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से अपने पूंजीपति मित्रों को लाभ पहुंचाने के लिए कार्य कर रही है.
न्याय यात्रा में प्रदेश कांग्रेस प्रभारी गुलाम अहमद मीर के अलावा जयराम रमेश, राजेश ठाकुर, के राजू, कन्हैया कुमार, चेतन चौहान, काजी निजामुद्दीन, ज्योति सिंह, अमूल्य नीरज खलखो, राकेश सिन्हा, सतीश पाल मुंजनी भी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे.

इसे भी पढ़ें: 

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours