America 800 चीनी Companies को डीलिस्ट करके दे सकता है बड़ा झटका

Twitter पे हमें फॉलो करे

चीन से फैला कोरोना वायरस ने सम्पूर्ण विश्व में मुश्किलें खड़ी कर दी हैं और इसे देखते हुए हर जगह चीन का बहिष्कार करने की बात चल रही है | चीन को आर्थिक रूप से सबक सिखाने के लिए कई तरह के प्लान बनाये गए हैं और इसके अलावा ऐसा भी प्रतीत हो रहा है कि इसके खिलाफ सैन्य एक्शन भी लिया जा सकता है | हालाँकि, यह सब अभी साफ़ नहीं है क्योकि यह जानकारी सिर्फ सूत्रों से प्राप्त हुई है |

 

परंतु एक बात साफ़ है कि कई कम्पनीज अब चीन को छोड़ दुसरे देशों की तरफ अग्रसर है | भारत में लावा और जर्मन कंपनी चीन से कारोबार बंद करके आई हैं | अब ख़बरें मिल रहीं है कि शायद सीनेट भी चीन के ऊपर कुछ कदम उठा सकता है | ऐसी ख़बरें मिल रही हैं कि सीनेट में करीब 800 चीनी कंपनियों की सूची तैयार होगी और उन्हें शेयर बाज़ार की लिस्टिंग से हटा दिया जाएगा | इसके लिए एक विधिवत प्रस्ताव भी पारित हो सकता है |

 

परंतु हालातों को देखते हुए और जानकारी के अनुसार यह कहा जा सकता है कि रिपब्लिकन एवं डेमोक्रेटिक द्वारा इसके लिए सहमति जताई है और हो सकता है कि 800 कम्पनीज को बैन कर दिया जाए | बता दें कि अमेरिकी शेयर मार्केट विश्व का सबसे विशाल आर्थिक मार्केट है और अगर इन 800 कम्पनीज को यहाँ से डीलिस्ट किया तो आगे इनको फंड्स प्राप्त नहीं होंगे |

 

और पढ़े   Tablighi Jamaat में आये विदेशी नागरिकों को Home Ministry ने दस साल के लिए Black Listed

अगर इसका आंकलन किया जाए तो भारतीय मुद्रा में यह करीब तीस लाख करोड़ होंगे जो एक काफी बड़ी रकम है | इन कम्पनीज में अलीबाबा और बैडू जैसे दिग्गज भी हैं |

हमरा सहयोग करे, कुछ दान करे , ताकी हम सचाई आपके सामने लाते रहे , आप हमरी न्यूज़ शेयर करके भी हमरा सहयोग कर सकते
RELATED ARTICLES