Chandni Chowk Fire : 50 फीट ऊंची उठी लपटें, 100 करोड़ के नुकसान का अंदेशा, 250 से ज्यादा कर्मियों ने बुझाई आग

1 min read

New Delhi: चांदनी चौक के नई सड़क इलाके के कटरा मारवाड़ी में बृहस्पतिवार शाम आग लग गई. आग लगते ही बाजार में अफरा-तफरी मच गई. भीड़ से भरे बाजार को किसी तरह खाली करवाया गया. देखते ही देखते आग ने भयावह रूप धारण कर लिया.

आग ने आसपास की दो इमारतों को चपेट में ले लिया. इनमें दुकानें और गोदाम थे. किसी तरह दुकानदारों ने भागकर जान बचाई. इस बीच मामले की सूचना पुलिस के अलावा दमकल विभाग को दी गई. शुरुआत में 14 गाड़ियों को भेजा गया, लेकिन हालात बिगड़ते देखकर गाड़ियों की संख्या 50 कर दी गई. आग पर काबू पाने के दौरान टुकड़ी (पटिया-टी-आयरन)-गाटर पर दो मंजिला दो इमारतें जमींदोज हो गईं. दोनों इमारतों में 60 से 65 दुकानें बताईं जा रहीं हैं. आग से करीब 100 करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान है.

दमकल विभाग के 250 से ज्यादा कर्मी और अधिकारी आग पर काबू पाने में जुटे थे. आग कटरा मारवाड़ी से बढ़ते हुए कटरा चीरा खाना की ओर बढ़ रही थी. पुलिस ने एहतियात के तौर पर आसपास की कई इमारतों और दुकानों को खाली करवा लिया था. हादसे की वजह से पूरे इलाके में हड़कंप था. लोगों की भारी भीड़ मौजूद थी.

हालात को काबू करने के लिए पुलिस फोर्स को बुलाया गया. दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना था कि फिलहाल कोई हताहत नहीं हुआ. आग पर काबू पाने के बाद सर्च ऑपरेशन के बाद बाकी स्थिति साफ हो पाएगी. दिल्ली फायर सर्विस के निदेशक अतुल गर्ग ने बताया कि शाम 5 बजे कंट्रोल रूम को खबर मिली कि नई सड़क इलाके के पुराना कटरा मारवाड़ी में आग लग गई है.

आग एक इमारत की दूसरी मंजिल से लगी थी. इसके बाद देखते ही देखते आग फैलती चली गई. फौरन बचाव दल को वहां भेजा गया. लगभग सभी दुकानों में साड़ियां, सूट, लहंगे और ड्रेस मेटेरियल मौजूद था. ऐसे में आग बढ़ती चली गई. आग की लपटें 50-50 फीट ऊंची उठने लगीं. जिन इमारतों में आग लगी थी.

वहां ग्राउंड फ्लोर के अलावा पहली और दूसरी मंजिल पर दुकानें और गोदाम थे. इमारतों की छत टुकड़ी और टी-आयरन-गाटर से बनी थीं. आग की वजह से इमारत का तापमान बढ़ा तो लोहे के गाटर और टी-आयरन पिघल गए और इमारतें जमींदोज हो गईं.

दोनों इमारतों में 60 से 65 दुकानें बताई जा रही थीं. दमकल विभाग के अधिकारियों का कहना था कि रात के 12.30 बजे तक आग पर काबू पा लिया गया था. पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए थे.

नई सड़क ट्रैडर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष दीपक महेंद्रू ने बताया कि आग से इमारतों के साथ कारोबारियों के सपने भी जल गए. आग से 100 करोड़ का नुकसान होने का अंदेशा है. इसका आकलन तो आग पर काबू पाने के बाद ही होगा. आग कैसे लगी इसका खुलासा नहीं हो पाया है. दीपक ने बताया कि एक इमारत की दूसरी मंजिल पर शॉर्ट सर्किट से आग लगने की बात की जा रही है. पुलिस की टीमें बाद में आग की सही वजहों का पता लगाएंगी.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours