शरीर के लिए एक्सरसाइज जरूरी है, लेकिन रोज-रोज एक ही जैसे वर्कआउट से बोरियत महसूस होने लगती है। अगर फुल मस्ती के साथ रोजाना वर्कआउट कर बॉडी फिट रखना चाहते हैं तो बहुत सारे ऐसे विकल्प हैं, जिन्हें बदल-बदल कर आजमा सकते हैं-

जुम्बा-
90 के दशक में कोलंबियन फिटनेस एक्सपर्ट द्वारा शुरू किया गया यह वर्कआउट भारत में भी लोकप्रिय है। लैटिन म्यूजिक के साथ इसमें तरह-तरह के डांस फॉम्र्स जैसे सालसा, बेली डांसिंग, सोका, रिगेटन आदि शामिल हैं। जुम्बा कई प्रकार का होता है। जिसमें बच्चों के लिए जुम्बा किड्स और बुजुर्गों के लिए जुम्बा गोल्ड शामिल हैं।

पिलेट्स-
कमजोर घुटनों और पीठ के लिए यह बेहतरीन वर्कआउट है जिसे चटाई पर लेटकर म्यूजिक के साथ किया जाता है। इससे शरीर मजबूत और लचीला बनता है। इसे एक जर्मन फिटनेस एक्सपर्ट ने शुरू किया था और 2005 में यह पूरी दुनिया में लोकप्रिय हो गया। बीते कुछ सालों से पिलेट्स सेलिब्रिटीज के वर्कआउट का अहम हिस्सा बन चुका है।

पाइलॉक्सिंग –
पिलेट्स, बॉक्सिंग और डांस का फ्यूजन है पाइलॉक्सिंग। स्वीडन के डांसर विविका जेनसन ने इसकी शुरुआत की थी, जो बाद में पिलेट्स ट्रेनर बन गए। पाइलॉक्सिंग करते समय फुटवियर नहीं पहना जाता। इन दिनों ज्यादातर फिटनेस ट्रेनर और एक्सपर्ट्स अधिक कैलोरी बर्न करने के साथ स्टेमिना बढ़ाने के लिए पाइलॉक्सिंग कराते हैं।

मसाला भांगड़ा –
युवाओं के लिए यह एक शानदार और मस्ती भरा वर्कआउट है। यह पॉप और भांगड़ा डांस का फ्यूजन है। इसमें ढोल की बीट पर फास्ट मूवमेंट्स जैसे जम्प और किक्स करते हैं। यह एक इंटेंस वर्कआउट है। बॉडी को लचीला बनाने और हृदय के लिए यह जबर्दस्त कार्डियो एक्टिविटी है।