Probiotic Bacteria: ज्यादातर लोगों का मानना है कि बैक्टीरिया सिर्फ शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है। कुछ बैक्टीरिया ऐसे भी होते हैं जो शरीर को फायदा पहुंचाते हैं। इनका शरीर में रहना जरूरी है। जैसे आंतों में मौजूद बैक्टीरिया, यह खाने को पचाने के अलावा रोगों से बचाते हैं। इन्हें प्रो-बायोटिक कहते हैं। प्रोबायोटिक वह सूक्ष्म जीव हैं जो शरीर में पहुंचने के बाद कई तरह से फायदा पहुंचाते हैं। लैक्टोबैसिलस और बीफिडोबैक्टीरियम प्रो-बायोटिक के उदाहरण हैं।

ये करें पूर्ति : शरीर में इनकी संख्या बढ़ाने के लिए प्री-बायोटिक्स डाइट की सलाह दी जाती है। प्री-बायोटिक्स एक तरह का फायबर है। जिसकी मौजूदगी में ही अच्छे बैक्टीरिया काम कर पाते हैं। शरीर में इसकी पूर्ति के लिए डाइट में साबुत अनाज, केला, प्याज, लहसुन, शहद आदि ले सकते हैं। कुछ ऐसे फूड भी हैं जिनमें पहले से प्रो-बायोटिक मौजूद होते हैं जैसे दूध, दही, पनीर आदि। इन्हें भी डाइट का हिस्सा बना सकते हैं।