Aerobics Benefits In Hindi: सर्दी के मौसम में हर किसी को हाथ पैर या कमर ही नहीं, गर्दन, घुटने और कई अहम जोड़ों में अकड़न के अलावा मस्कुलर पेन की भी शिकायत रहती है। अलग-अलग तरह की एक्सरसाइज की जगह आप कम्प्लीट वर्कआउट यानी एरोबिक्स कर सकते हैं। आइए जानते हैं इसके फायदाें के बारे में :-

फ्री-स्टाइल ( Types Of Aerobic Exercise )
ऐसे करें : इसके लिए सबसे पहले खुद को कंफर्टेबल करना जरूरी है। ऐसे में ज्यादा टाइट या लूज कपड़े न पहनें, स्पोट्र्स शूज पहन सकते हैं और शरीर को अकड़ाकर न रखें। 2-3 डांस सॉन्ग्स का फ्यूजन तैयार कर उसपर ऐसे मूवमेंट करते हैं जिन्हें 2-3 बार से ज्यादा रिपीट किया जा सकता है। इसे 30-45 मिनट या अधिक समय के लिए करें।

फायदे : मसल्स में लचीलापन आने के अलावा पसीना निकलने से शरीर में फुर्ती आती है।

ये न करें : जिन्हें चक्कर आने की शिकायत, हड्डियां कमजोर हों, आर्थराइटिस, हाल ही कोई ऑपरेशन हुआ हो न करें।

स्टेप एरोबिक्स
ऐसे करें : किसी समतल जमीन पर ऐसा फुटस्टेप (पाटा) रखें जिसपर दाएं-बाएं पैर को एक के बाद एक रखकर प्रेक्टिस की जा सके। इसमें भी 2-3 एनर्जेटिक गानों का फ्यूजन तैयार कर उसपर ऐसे मूवमेंट किए जाते हैं जिसमें पैरों की गतिविधि ज्यादा हों। फुटस्टेप पर बार-बार पैरों के बदलाव से लिगामेंट में खिंचाव होता है जिससे पैरों में मजबूती आती है।

फायदे : अपर, लोअर बॉडी के अलावा कार्डियोवेस्कुलर सेहत के लिए अच्छा वर्कआउट है।

ये न करें : जिन्हें एड़ी या पैर के पंजे में दिक्कत, कमर व जोड़ों का दर्द, चक्कर आने की समस्या हो वे इसे न करें।