हरीश रावत बोले- कांग्रेस सत्ता में आई तो राम मंदिर का निर्माण करेगी

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव की तारीखें जैसे जैसे नजदीक आ रही है, राजनीतिक दल मंदिर की राजनीति को फिर हवा देने लगे हैं। अब कांग्रेस महासचिव और उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि लोकसभा चुनावों के बाद अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो पार्टी अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने के लिए ईमानदारी से कोशिश करेगी।

मंदिर के नाम पर बीजेपी कर रही राजनीति: रावत

देहरादून में हरीश रावत ने कहा कि पहले के दो मौकों पर कांग्रेस ने राम मंदिर निर्माण के लिए ईमानदारी से कोशिश किया। हम अगर सत्ता में आए तो राम मंदिर निर्माण के लिए गंभीरता से प्रयास करेंगे। यह पूछे जाने पर कि क्या यह पार्टी का आधिकारिक रुख है, रावत ने कहा कि राम मंदिर के संदर्भ में मेरे बयान को मीडिया में व्यापक रूप से जगह मिली है। इसे लेकर कांग्रेस से कोई इनकार नहीं किया गया है। साथ ही रावत ने बीजेपी पर राम मंदिर की राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस मुद्दे पर गंभीर नहीं है।

‘मोदी को एकमात्र राष्ट्रभक्त बता रही बीजेपी’

पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए आत्मघाती हमले पर रावत ने बीजेपी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश में एकमात्र राष्ट्रभक्त के रूप में प्रस्तुत करने का आरोप लगाया। रावत ने कहा कि मोदी को देश में एकमात्र राष्ट्रभक्त के रूप में प्रस्तुत करने पर मुझे कड़ी आपत्ति है। हम सभी राष्ट्रभक्त हैं। देश में प्रत्येक व्यक्ति राष्ट्रभक्त है।