नई दिल्ली। बीजेपी ( BJP ) सरकार के खिलाफ मीडिया में कांग्रेस का पक्ष रखने वाली पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ( Priyanka Chaturvedi ) से जुड़ा एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। प्रियंका ने आरोप लगाए हैं कि कांग्रेस ( Congress ) के अंदर महिलाओं से दुर्व्यवहार करने वालों को प्राथमिकता दी जा रही है। प्रियंका ने इसे लेकर ट्विटर पर अपनी कड़ी नाराजगी हाजिर की है।

प्रियंका ने आखिर कहा क्या है?

प्रियंका चतुर्वेदी ने एक पत्रकार के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा, ‘यह बहुत दुखद है कि अपना खून-पसीना बहाने वालों की जगह कांग्रेस पार्टी में कुछ खराब आचरण करने वाले लोगों को तरजीह दी जा रही है। मैंने पहले भी अपनी पार्टी के लिए लोगों की आलोचना और गालियां खाई हैं, लेकिन अब पार्टी के अंदर ही मेरे साथ दुर्व्यवहार करने वालों को, मुझे धमकी देने वालों को बगैर किसी कार्रवाई के छोड़ दिया गया। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।’

क्या है पूरा मामला

दरअसल पिछले साल यानि 1 सितंबर, 2018 को प्रियंका चतुर्वेदी मथुरा में रफाल डील को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रही थीं। इसी दौरान उनके साथ कांग्रेस के कुछ सदस्यों ने दुर्व्यवहार किया। आलाकमान से शिकायत के बाद तत्काल कार्रवाई हुई और पार्टी ने उन कार्यकर्ताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया था। लेकिन अब प्रदेश कांग्रेस की अनुशासन समिति ने महासचिव और यूपी (पूर्वी) के प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया की सिफारिश पर सभी आरोपियों का निलंबन वापस ले लिया गया है। इसी को लेकर प्रियंका ने अपनी नाराजगी जाहिर की है।