नई दिल्ली। कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली में हुई हिंसा के बाद बंगाल की सियासत गरमा गई है। रैली के दौरान विद्यासागर की प्रतिमा टूटे जाने के बाद ममता बनर्जी ने भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। ममता बनर्जी ने कोलकाता में पैदल मार्च किया है। ममता के साथ बड़ी संख्या में उनके समर्थक भी पैदल मार्च कर रहे हैं। बेलियाघाट से श्यामबाजार तक का पैदल मार्च निकाला गया है। ईश्वर चंद विद्यासागर जी की प्रतिमा तोड़ने को लेकर ममता बनर्जी ने भाजपा को जिम्मेदार ठहराया है। ममता ने कहा कि भाजपा के गुंडों ने विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ा है।

ये भी पढ़ें: BJP-TMC की जंग में टूटी ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा, नाराज ममता ने भाजपा कार्यकर्ताओं को कहा ‘गुंडा’

अमित शाह के रोड शो में हिंसा

बता दें कि मंगलवार को कोलकाता में अमित शाह के रोड शो में हिंसक झड़पें हुई थीं। इस दौरान उपद्रवियों ने विद्यासागर कॉलेज में ईश्‍वर चंद्र विद्यासागर की प्रतिमा को तोड़ दिया। जिसके बाद ममता बनर्जी रात में ही घटनास्थल पहुंचीं और भाजपा कार्यकर्ताओं पर मूर्ति तो़ड़ने का आरोप लगाया। ममता ने कहा कि बंगाल की विरासत के साथ कोई छेड़छाड़ करने की कोशिश करेगा तो उसको मैं छोड़ने वाली नहीं हूं।

ये भी पढ़ें: कोलकाता हिंसा: डेरेक ओ ब्रायन ने अमित शाह पर लगाया आरोप, कहा- बाहर से बुलाए गए थे गुंडे

पीएम मोदी का ममता पर तीखा प्रहार

 

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल के बशीरहट में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। पीएम मोदी ने कहा कि हिसाब मांगने पर दीदी धमकी दे रही हैं। आज अपनी ही परछाई से डर रही हैं।भाजपा 300 सीटों से इस बार चुनाव जीतने जा रही है। ममता बनर्जी विकास और लोकतंत्र विरोधी है।