INX मीडिया मामले में पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम ने दिल्ली हाई कोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की है। इसमें उन्होंने उन्हें न्यायिक हिरासत में रखने को चुनौती दी है। अपनी याचिका में चिदंबरम ने कहा कि उनकी गिरफ्तारी और न्यायिक हिरासत गैरकानूनी है। इस मामले में पूछताछ पूरी हो चुकी है, इसलिए उन्हें जेल में नहीं रखा जा सकता। याचिका पर हाई कोर्ट गुरुवार को सुनवाई करेगा।

बता दें, चिदंबरम 19 सितंबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में हैं। उन्होंने अपनी याचिका में कहा है कि इस मामले का कोई आरोपी जेल में बंद नहीं है।

पी. चिदंबरम को फिलहाल तिहाड़ जेल में रखा गया है। दिल्ली की राउज एवेन्यू अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है। चिदंबरम को 5 सितंबर को तिहाड़ में भेजा गया था और 19 सितंबर तक उन्हें हिरासत में रखा जाएगा। बता दें, इससे पहले CBI भी उन्हें रिमांड पर रख चुकी है। उनसे कई बार पूछताछ की जा चुकी है।

उधर, सीबीआई ने INX मीडिया केस में चिदंबरम के खिलाफ चार्जशीट दाखिल करने की तैयारी कर ली है। चार्जशीट इस महीने के तीसरे हफ्ते में दाखिल की जा सकती है। अगर सीबीआई चार्जशीट दाखिल करती है तो चिदंबरम को जमानत मिलने की संभावना कम हो जाएगी।