नई दिल्ली। देश के तीन राज्यों महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड में साल के अंत तक विधानसभा चुनाव होना हैं। चुनाव आयोग कभी भी इन राज्यों में चुनाव की तारीखों की घोषणा कर देगा। यही वजह है कि इन तीनों ही राज्यों में राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदल रहे हैं।

ताजा खबर महाराष्ट्र से है। यहां एनसीपी को दोहरा झटका लगा है। सतारा संसदीय क्षेत्र से राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ( NCP ) के सांसद उदयनराजे भोसले पार्टी छोड़कर बीजेपी से दामन थामने जा रहे हैं।

शनिवार को वे भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) की सदस्यता लेंगे।

इससे पहले वह शुक्रवार रात लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को अपना इस्तीफा सौंपेंगे।

आपको बता दें कि NCP के नेता रहे भास्कर जाधव ने भी शुक्रवार को शिवसेना का दामन थाम लिया।

udaynaraje_bhosale.jpg

विधानसभा चुनाव से पहले महाराष्ट्र में राजनीतिक समीकरण तेजी से बदल रहे हैं।

मोदी मैजिक यहां अब भी बरकरार है और अलग-अलग पार्टी से नेता बीजेपी और शिवसेना में शामिल हो रहे हैं।

इसी कड़ी में शुक्रवार का दिन भी रहा। जब सतारा सांसद भोसले शनिवार ने एनसीपी को अलविदा कह दिया

यही नहीं वे 14 सितंबर को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के घर जाएंगे और वहां बीजेपी में शामिल होंगे। इस दौरान केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और रामदास आठवले भी मौजूद रह सकते हैं।

सांसद उदयनराजे सतारा से मुंबई पहुंचेंगे और वहां से मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ विशेष विमान के जरिए शुक्रवार शाम दिल्ली पहुंचेंगे।

दिल्ली पहुंचते ही रात को लोकसभा अध्यक्ष को अपना इस्तीफा सौप देंगे।

सतारा में राकांपा से तीन बार के सांसद उदयनराजे पी. भोसले छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज हैं।

2019 के लोकसभा चुनाव में उनका मुकाबला बीजेपी के नरेंद्र अन्नासाहेब पाटील से था, जो पूर्व शिव सैनिक रहे हैं।