पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस (TMC) की ओर से बीजेपी पर दुर्गा पूजा के राजनीतिकरण के आरोप लगाए जा रहे हैं। इसी बीच एक समिति ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को न्यौता भेजा है कि वे इस साल होने वाले उनके दुर्गा पूजा समारोह का उद्घाटन करें। बता दें, दुर्गा पूजा में एक महीने से कम समय बचा है।

सोनिया गांधीः कांग्रेस सरकारें पेश करें जवाबदेह-पारदर्शी शासन की मिसाल

वरिष्ठ भाजपा नेता मुकुल राय के अनुसार- शाह को बुलाने का निर्णय आयोजकों ने खुद लिया है। पार्टी की इसमें कोई भूमिका नहीं है। शााह को 11 सितंबर को आयोजित होने वाले समारोह में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेजा गया है।

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, मंत्री और एकडालिया एवरग्रीन दुर्गा पूजा कमेटी के संरक्षक सुब्रत मुखर्जी ने भाजपा की राज्य इकाई पर दुर्गा पूजा त्योहार के ‘राजनीतिकरण’ का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि- ‘भाजपा गलत परिपाटी की शुरुआत कर रही है।’

तेजस नौसेना में शामिल होने के लिए तैयार, गोवा में समुद्र तट पर की गई अरेस्ट लैंडिंग

उधर, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को आमंत्रित करने वाली दक्षिण कोलकाता की फ्रैंड्स क्लब पूजा समिति के प्रवक्ता ने कहा है कि-‘हम किसी भी राजनीतिक पार्टी से नहीं जुड़े हैं, हमारा कोई भी राजनीतिक रंग नहीं है।’ प्रवक्ता ने कहा कि- ‘हमने अमित शाह को केंद्रीय गृह मंत्री के रूप में आमंत्रित किया है। उनकी उपस्थिति से यहां के लोगों को गर्व होगा।’ उन्होंने इस बात को खारिज किया कि बीजेपी राज्य में दुर्गा पूजा समारोहों में हस्तक्षेप कर रही है। उन्होंने कहा कि दुर्गा पजा पश्चिमी बंगाल का बसे बड़ा त्योहार है, इससे लोगों की भावनाएं जुड़ी हुई हैं। इस दौरान हम राजनीति करने में विश्वास नहीं रखते। उन्होंने शाह को भेजे गए पत्र की प्रति भी दिखाई।