नई दिल्ली। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर सियासी उठापटक जारी है। इस बीच ख़बर आ रही है कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने पहुंचे हैं। उन्होंने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

यह भी पढ़ें-तीस हजारी कोर्ट मामला: NCW ने DCP रेखा शर्मा पर हमले की जांच की मांग

बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल कल यानी 9 नवंबर को खत्म हो जाएगा। लेकिन अभी तक यह तय नहीं हो सका है कि राज्य में किसकी सरकार बनेगी। जहां एक तरफ शिवसेना 50-50 फॉर्मूले के तहत सीएम पद के लिए अड़ी हुई है।

वहीं, दूसरी तरफ बीजेपी ने शिवसेना के इस फॉर्मूले को साफ नकार कर दिया है। बीजेपी शिवसेना से सीएम पद बांटना नहीं चाहती है।

 

[MORE_ADVERTISE1]

[MORE_ADVERTISE2]

वहीं, शिवसेना को विधायकों के खरीद फरोख्त का डर सता है। जिसके बाद शिवसेना ने अपने विधायकों को मुंबई के रंगशारदा होटल में भेज दिया है। आदित्या ठाकरे देर रात रंगशारदा होटल पहुंचे, जहां उन्होंने विधायको से मुलाकात की।

लग सकता है राष्ट्रपति शासन

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन भी लग सकता है। राज्यपाल कोश्यारी सबसे बड़े दल, चुनाव पूर्व सबसे बड़ा गठबंधन, चुनाव बाद सरकार बनाने के लिए बने सबसे बड़े गठबंधन या चुनाव बाद बने गठबंधन और बाहर से समर्थन जैसे सभी विकल्पों पर सोच सकते हैं।

इन सब पर विचार करने के बाद भी कोई निर्णय नहीं निकला और कोई विकल्प बहुमत लायक नहीं लगा तो वह राज्य में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश भी करेंगे।

[MORE_ADVERTISE3]