नई दिल्ली। हैदराबाद में वेटनरी डॉक्टर के गैंगरेप-मर्डर मामले को लेकर संसद भी चिंतित है। सोमवार को संसद की कई महिला सांसदों ने हैदराबाद जैसे कांड को अंजाम देने वाले दोषियों की लिंचिंग करने और तत्काल सजा दिए जाने की पैरवी की। संसद में समाजवादी पार्टी सांसद जया बच्चन, AIADMK सांसद विजिला सत्यनाथ, कांग्रेस सांसद एमी याग्निक और फिर तृणमूल कांग्रेस सांसद मिमी चक्रवर्ती ने दोषियों के खिलाफ खतरनाक कार्रवाई की मांग की।

बिग ब्रेकिंगः गैंगरेप-मर्डर पर वेटनरी डॉक्टर की छोटी बहन ने किया ऐसा खुलासा.. सुनकर नहीं होगा यकीन… सभी को

राज्यसभा में जया बच्चन के ‘रेपिस्ट की लिंचिंग होनी चाहिए’ बयान का टीएमसी सांसद मिमी चक्रवर्ती ने समर्थन किया। मिमी ने कहा, “मैं उनसे सहमत हूं। मुझे नहीं लगता कि हमें बलात्कारियों को संरक्षण के साथ अदालतों में ले जाने और न्याय की प्रतीक्षा करने की आवश्यकता है। उन्हें तत्काल सजा देने की जरूरत है।”

तृणमूल सदस्य शांतनु सेन ने कहा कि फास्ट-ट्रैक कोर्ट स्थापित करने और कड़ी सजा देने के लिए मजबूत कदम उठाए जाने चाहिए। सेन ने कहा, “सजा को प्रचारित किया जाना चाहिए, ताकि लोग ऐसा जघन्य अपराध करने से पहले दो बार सोचें।”

हैदराबाद में वेटनरी डॉक्टर के रेप-मर्डर में परिवारवालों का बड़ा खुलासा.. कॉल कर यह कह रही थी बेटी..

भारत में लड़कियों और महिलाओं की सुरक्षा पर हो रही चर्चा और सुझाव के साथ सदन में शून्यकाल शुरू हुआ। सभापति एम वेंकैया नायडू ने कहा, “हैदराबाद में जो कुछ हुआ, वह मानवता के सभी सिद्धांतों के लिए अपमानजनक और बेहद निंदनीय है।”

जया बच्चन ने कहा कि इस तरह के भीषण अपराध करने वालों को पूरे देश के सामने बेइज्जत किया जाना चाहिए और पीट-पीट कर मार डालना चाहिए। उच्च सदन के सदस्यों ने कहा कि इस भीषण घटना ने राष्ट्र की अंतर्आत्मा को हिला दिया है।