नई दिल्‍ली : दिल्‍ली राज्‍य की टीम के मुख्य चयनकर्ता और टीम इंडिया के तेज गेंदबाज रह चुके अमित भंडारी पर अंडर-23 ट्रायल्स के दौरान हुए जालनेवा हमले के आरोप में दिल्ली पुलिस ने मंगलवार की रात दिल्ली के अंडर-23 क्रिकेटर अनुज डेढ़ा को गिरफ्तार कर लिया है। मिली खबर के अनुसार, सैय्यद मुश्ताक अली टी-20 ट्रॉफी के लिए दिल्ली की टीम में स्‍थान न मिलने से अनुज गुस्‍से में था और उसके इशारे पर लगभग 10-15 गुंडों ने अमित भंडारी पर कर दिया था। इसके बाद डीडीसीए ने उस पर आजीवन बैन लगा दिया है।

अनुज और उसके भाई पर हत्‍या की कोशिश का मामला दर्ज
पुलिस ने दिल्ली के इस क्रिकेटर और उनके भाई नरेश पर हत्या की कोशिश का मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस से मिली सूचना के अनुसार आरोपी अनुज ने अपना गुनाह भी कबूल कर लिया है। दिल्‍ली नॉर्थ के डीसीपी नूपुर प्रसाद ने जानकारी दी कि शिकायत पर तुरत संज्ञान लेते हुए केस दर्ज कर लिया गया है और आरोपी क्रिकेटर और उसके भाई को गिरफ्तार कर लिया गया है। डेढ़ा का नाम उन 79 खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल था जिन्हें डीडीसीए ने अंडर-23 ट्रायल्स के लिए चुना था।

खतरे से बाहर हैं भंडारी
इस हमले में भंडारी सिर और कान पर चोटें लगी हैं। उन्‍हें सिविल लाइंस स्थित संत परमानंद अस्पताल में 24 घंटे की निगरानी पर रखा गया है। अब वह खतरे से बाहर हैं।