जोहॉन्सबर्ग : आईपीएल के दौरान दक्षिण अफ्रीका के दो मुख्य तेज गेंदबाज डेल स्टेन और कगिसो रबाडा चोटिल हो गए थे। अब वे दोनों चोट से तेजी से उबर हैं और उम्मीद है कि वे विश्व कप में खेलेंगे। इसकी जानकारी दक्षिण अफ्रीकी टीम के मुख्य कोच ओटिस गिब्सन ने दी। लेकिन एक और तेज गेंदबाज लुंगी नगिडी के बारे में उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी। वह कमर की दर्द से परेशान हैं। इतना ही नहीं, इससे पहले दक्षिण अफ्रीका को अपने एक और तेज गेंदबाज एनरिक नॉर्ट्जे की सेवाएं भी विश्व कप में नहीं मिल पाएंगी। वह चोटिल होने के कारण बाहर हो चुके हैं। दक्षिण अफ्रीका ने उनके विकल्प के तौर पर क्रिस मौरिस को टीम में शामिल कर लिया है।

रबाडा और स्टेन को आईपीएल के दौरान लगी थी चोट

कगिसो रबाडा इस साल आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा थे। उन्हें एक मैच के पीठ में चोट लग गई थी। उन्होंने दिल्ली के लिए आईपीएल में 12 मैचों में 25 विकेट लिए थे। वहीं आईपीएल सीजन-12 के बीच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ जुड़े डेल स्टेन दो ही मैच खेल पाए थे कि उन्हें फिर कंधे में चोट लग गई थी। वह चोट से उबर कर ही आईपीएल में खेलने आए थे। गिब्सन ने कहा कि इन दोनों की चोट ज्यादा चिंतित करने वाली नहीं है और उम्मीद है कि वह विश्व कप में खेलेंगे।
गिब्सन ने कहा कि रबाडा और स्टेन के साथ कुछ समस्या थी, लेकिन हमें लगता है कि दोनों वापसी की राह पर हैं। परेशान होने की जरूरत नहीं है।

नगिडी के बारे में कुछ नहीं कहा

इससे पहले 12 मई को दक्षिण अफ्रीकी टीम के डॉक्टर मोहम्मद मूसाजी ने जानकारी दी थी कि रबाडा फिट होने की राह पर हैं, लेकिन डेल स्टेन और लुंगी नगिडी के बारे में अभी कुछ नहीं कह सकते। अब कोच ओटिस गिब्सन ने रबाडा के साथ स्टेन के स्वास्थ्य की ताजा जानकारी दे दी है, लेकिन उन्होंने नगिडी के बारे में कुछ नहीं कहा। इससे लगता है कि विश्व कप तक उनके फिट होने के आसार कम हैं।

विश्व कप में बेहतर प्रदर्शन की जताई उम्मीद

कोच ने विश्व कप में बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद जताते हुए कहा कि उनकी टीम में कई ऐसे युवा खिलाड़ी हैं, जिन्हे अतीत की विफलताओं का दंश नहीं झेलना पड़ा है, जो बीते दो दशक से बड़े टूर्नामेंटों में दक्षिण अफ्रीकी टीम का पीछा कर रही हैं। यह हमारे लिए नई शुरुआत है। एकजुट होकर विश्व कप में जा रहे हैं। टीम के साथ मेरा यह पहला विश्व कप है।
दक्षिण अफ्रीका को विश्व कप में अपना पहला मैच 30 मई को ओवल में मेजबान इंग्लैंड के साथ खेलना है।