लंदन। ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप का रोमांच फैंस के सिर चढ़कर बोल ही रहा था कि बारिश ने विश्व कप का मजा खराब कर दिया है। वर्ल्ड कप में पिछले तीन मैचों का नतीजा बारिश की वजह से नहीं निकला है। लगातार हो रही बारिश की वजह से मैचों को रद्द किया जा रहा है। बुधवार को ब्रिस्टल में होने वाले बांग्लादेश-श्रीलंका मैच में बारिश ने बाधा डाली और आखिरकार मैच को रद्द करना पड़ा।

बारिश ने भी बना डाला रिकॉर्ड

क्रिकेट विश्व कप के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब तीन मैचों को बारिश की वजह से रद्द करना पड़ा है। विश्व के आगाज को अभी 15 दिन भी नहीं हुए हैं और बारिश की वजह से 3 मैचों को रद्द करना पड़ा। इससे क्रिकेट फैंस का गुस्सा आईसीसीस पर निकल रहा है। फैंस ही नहीं बल्कि टीम के कप्तान और कोच का भी गुस्सा ICC पर निकल रहा है। वर्ल्ड कप में इससे पहले 1992 और 2003 में 2-2 मैच बेनतीजा रहे थे। 1992 में भारत-श्रीलंका और इंग्लैंड-पाकिस्तान, जबकि 2003 में बांग्लादेश-वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे-पाकिस्तान का मैच बारिश की वजह से रद्द हो गया था।

Ban vs Sl Match Draw

ये मैच चढ़ गए बारिश की भेंट

सबसे पहले 7 जून को पाकिस्तान और श्रीलंका के मैच में बारिश ने खलल डाला था। 10 जून वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका का मैच बारिश की वजह से रद्द किया गया और कल बांग्लादेश और श्रीलंका का मैच भी बारिश की भेंट चढ़ गया। हैरानी वाली बात ये है कि अभी तक वर्ल्ड कप में श्रीलंका के मैचों में बारिश ज्यादा देखने को मिली है। पाकिस्तान के खिलाफ होने वाला मैच बारिश की वजह से रद्द हुआ। इसके बाद मंगलवार को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले मैच में बारिश हुई और इससे पहले अफगानिस्तान के खिलाफ श्रीलंका ने जो इकलौता मैच जीता था, वो भी बारिश की वजह से 41-41 ओवर का किया गया था।

Indian Team

आगे बिगड़ सकता है टीमों का गणित

वर्ल्ड कप में जिस तरह बारिश की वजह से मैच रद्द हो रहे हैं, वो स्थिति आगे टीमों का गणित बिगाड़ सकती है। बारिश की वजह से जब कोई मैच रद्द होता है तो दोनों टीमों को 1-1 अंक दिया जाता है। ऐसे में जो टीम मैच हारने वाली हो, उसे भी 1 अंक का फायदा हो जाता है। साथ ही मैच जीतने वाली टीम के लिए ये नुकसान होता है।

क्या कहता है नियम?

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल के नियमों के मुताबिक, अगर किसी मैच में टॉस भी नहीं हो पाए तो उसे रद्द माना जाता है। हालांकि, टॉस के बाद किसी कारण से मैच पूरा नहीं हो हुआ तो वह बेनतीजा की श्रेणी में गिना जाता है।