नई दिल्ली। विश्व कप 2019 में आज पाकिस्तान और विश्व चैंपियन ऑस्ट्रेलिया का मुकाबला टांटन में होगा। इस मैच से पहले स्टीव स्मिथ के खिलाफ हूटिंग के सवाल पर पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने भारतीय क्रिकेट फैंस को चिढ़ाने का काम किया है। भारत के खिलाफ मैच में दर्शकों द्वारा स्टीव स्मिथ को चीटर-चीटर कहने पर सरफराज ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तानी फैंस ऐसा कुछ करेंगे, वो क्रिकेट और उसमें खेलने वाले खिलाड़ियों से प्यार करते हैं।

विश्व कप में 16 जून को होगा भारत-पाक का मैच

विश्व कप में भारत और पाकिस्तान का मैच 16 जून को खेला जाना है, लेकिन इससे कई दिन पहले से ही पाकिस्तान की ओर से भारतीय फैंस और टीम इंडिया को चिढ़ाने की कोशिशें तेज हो गई हैं। पाकिस्तान और ऑस्ट्रेलिया के मैच से पहले एक संवाददाता सम्मेलन में एक पत्रकार ने हूटिंग के मामले मेें कोहली की खेल भावना की प्रशंसा करते हुए सवाल पूछा था। सरफराज से पत्रकार ने सवाल किया कि अगर पाकिस्तानी फैंस स्मिथ और वॉर्नर के खिलाफ भारतीय फैंस की तरह हरकत करते है तो आप भी विराट के जैसा कदम उठाएंगे ?

विराट की तारीफ सुनकर बौखला गए सरफराज

प्रेस कॉन्फेंस में विराट कोहली की खेल भावना की तारीफ करना पाकिस्तानी कप्तान को रास नहीं आया और बौखलाहट में सरफराज ने भारतीय फैंस पर अपनी खीज निकाली। इससे पहले पाकिस्तान के एक टीवी चैनल ने भारत-पाक के मैच को लेकर बनाए एक विज्ञापन में खेल भावना का उल्लंघन करते हुए विंग कमांकर अभिनंदन का मजाक उड़ाने की कोशिश की थी।

पाक टीम ने पीसीबी से मांगी थी खास जश्न की इजाजत

एक और मामले में पाकिस्तान टीम के कप्तान सरफराज अहमद ने भारत के खिलाफ मैच में पीसीबी से एक विशेष तरह का जश्न मनाने की इजाजत मांगी थी, लेकिन विश्व कप को देखते हुए पीसीबी ने ऐसे किसी भी जश्न को इजाजत देने से इनकार कर दिया था। आपको बता दें कि सरफराज अहमद रांची वनडे मैच में भारतीय क्रिकेट टीम द्वारा आर्मी कैप पहनने से चिढ़े हुए हैं।

स्टीव वॉ ने की विराट की खेल भावना की तारीफ

एक ओर हमारा पड़ोसी पाकिस्तान हमारे देश और हमारी क्रिकेट टीम से चिढ़ा हुआ है, वहीं ऑस्ट्रेलिया के पूर्व खिलाड़ी स्टीव वॉ ने स्मिथ की हूटिंग के मामले में कोहली की जमकर तारीफ की। वॉ ने कहा कि नेतृत्व कई रूपों में खुद को प्रकट करता है, स्मिथ की हूटिंग के दौरान स्थिति बिगड़ सकती थी, लेकिन भारतीय कप्तान कोहली ने दर्शकों से शांत रहने की अपील करके सराहनीय काम किया।