बर्मिंघम : इंग्लैंड और वेल्स में खेले जा रहे आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 (ICC Cricket World Cup 2019) के दूसरे सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया (Australia cricket team) को इंग्लैंड (England cricket team) के हाथों जरूर हार का सामना करना पड़ा, लेकिन उसके बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मिशेल स्टॉर्क के लिए यह टूर्नामेंट काफी सफल रहा। वह किसी एक विश्व कप में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए। उन्होंने दूसरे सेमीफाइनल में इंग्लैंड के ओपनर बेयरस्टो को आउट कर यह मुकाम हासिल किया। स्टॉर्क ने इस विश्व कप में कुल 27 विकेट लिए। इससे पहले यह रिकॉर्ड उनके हमवतन दिग्गज तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा के नाम था। मैक्ग्राथ ने विंडीज में खेले गए 2007 विश्व कप में 26 विकेट लिए थे।

स्विंग के महारथी भुवनेश्वर कुमार से थर-थर कांपते हैं बल्लेबाज

गेंदबाजों के लिए खास रहा था 2007 का विश्व कप

2007 का विश्व कप गेंदबाजों के लिए बेहद खास रहा था। इस विश्व कप में जहां ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्राथ ने सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया था तो दो और गेंदबाज ऑस्ट्रेलिया के शॉन टेट और श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन ने भी 23-23 विकेट लिए थे। बता दें कि 2007 विश्व कप से पहले 2003 में श्रीलंका के चामिंडा वास ने 23 विकेट लेकर किसी एक विश्व कप में सर्वाधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया था। यानी किसी एक विश्व कप में सर्वाधिक विकेट लेने वाले टॉप-5 गेंदबाजों में सिर्फ दो देश श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों का कब्जा है।
बता दें कि 2007 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया और श्रीलंका की टीमें फाइनल तक पहुंची थीं। फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने श्रीलंका को मात देकर खिताब पर कब्जा जमाया था।

क्रिकेट वर्ल्ड कपः गैर-भारतीयों को नहीं थी टीम इंडिया के लीग दौर में टॉप पर रहने की उम्मीद

एक विश्व कप में ज्यादा विकेट लेने वाले ये हैं टॉप-5 गेंदबाज

27 विकेट, मिचेल स्टार्क, ऑस्ट्रेलिया, 2019 विश्व कप

26 विकेट, ग्लेन मैक्ग्राथ, ऑस्ट्रेलिया, 2007 विश्व कप

23 विकेट चमिंडा वास, श्रीलंका, 2003 विश्व कप

23 विकेट, शॉन टेट, ऑस्ट्रेलिया, 2007 विश्व कप

23 विकेट, मुथैया मुरलीधरन, श्रीलंका, 2007 विश्व कप