दुबई। क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ( ICC ) क्रिकेट को ओलम्पिक खेलों में शामिल करवाने को लेकर कमर कस चुकी है।

माना जा रहा है कि सब कुछ अगर योजना के मुताबिक रहा तो 2028 ओलंपिक खेलों में पुरुषों की क्रिकेट टीमें मेडल के लिए जंग लड़ती दिखाई देंगी।

आपको बता दें कि महिला क्रिकेट पुरुष क्रिकेट के मुकाबले एक कदम आगे है। 2022 में होने वाले बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में महिला क्रिकेट को शामिल किया जा चुका है। इस बारे में जल्द ही आधिकारिक घोषणा होगी।

बीसीसीआई की टाइटल स्पॉन्सरशिप प्रक्रिया पर उठ रहे सवाल

पुरुष क्रिकेट को ओलम्पिक में शामिल करवाने को लेकर क्रिकेट से जुड़े दो दिग्गजों के बीच अहम बातचीत भी हो चुकी है।

आईसीसी के कार्यकारी अधिकारी मनु साहनी और क्रिकेट के नियम बनाने वाली अंतरराष्ट्रीय कमेटी मेरीलबोर्न क्रिकेट क्लब के अध्यक्ष माइक गैटिंग ने इस बारे में चर्चा की है।

माइक गैटिंग ने मनु साहनी से हुई बातचीत का खुलासा करते हुए बताया, “साहनी को उम्मीद है कि क्रिकेट को 2028 ओलम्पिक खेलों में जगह मिल सकती है। इस पर वह मजबूती से काम कर रहे हैं। यह वैश्विक स्तर पर क्रिकेट के लिए बड़ी बात होगी।”

‘खेलो इंडिया यूथ गेम्स’ के तीसरे संस्करण में भाग लेंगे 10,000 से अधिक खिलाड़ी और अधिकारी

इसके अलावा माइक गैटिंग ने ये भी कहा, “यह सिर्फ दो सप्ताह की बात होगी न कि पूरे महीने की। इसलिए यह उन टूर्नामेंट्स में से होगा, जिसमें दो सप्ताह का कार्यक्रम बनाने में परेशानी नहीं आएगी।”