नई दिल्ली। तमिलनाडु प्रीमियर लीग ( Tamilnadu Premier League ) में चेपक सुपर गिलीज ( Chepauk Super Gillies ) की टीम से एक ऐसा गेंदबाज खेल रहा है, जिसके गेंदबाजी एक्शन को देखकर आप उन्हें लासिथ मलिंगा ( Lasith Malinga ) कहेंगे। ये हैं जी पेरियास्वामी ( G Periyaswamy )। चेपक सुपर गिलीज के खिलाड़ी जी पेरियास्वामी ने डिंडीगुल ड्रैगन्स के खिलाफ बेहतरीन गेंदबाजी का नजारा पेश करते हुए 15 रन देकर 5 विकेट झटके। उनकी गेंदबाजी की बदौलत चेपक सुपर गिलीज की टीम ने तमिलनाडु प्रीमियर लीग का खिताब अपने नाम कर लिया।

अंतिम ओवर में हैट्रिक लगाकर अपनी टीम को जिताया

जी पेरियास्वामी की गेंदबाजी की बदौलत आखिरी ओवर तक गए मैच में चेपक सुपर गिलीज ने डिंडीगुल ड्रैगन्स को 12 रन से हरा दिया। डिंडीगुल ड्रैगन्स की टीम को आखिरी ओवर में जीत के लिए 15 रन चाहिए थे। जबकि टीम के चार बल्लेबाजों का आना बाकी था। जी पेरियास्वामी ने अपने इस आखिरी ओवर में हैट्रिक लगाकर डिंडीगुल ड्रैगन्स के अरमानों पर पानी फेर दिया। उन्होंने एक के बाद एक तीन बल्लेबाजों को पवेलियन भेजकर अपनी टीम को जीत दिला दी।

डिंडीगुल ड्रैगन्स की टीम अंतिम ओवर में 15 रन नहीं बना सकी

टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चेपक सुपर गिलीज ने 8 विकेट खोकर 126 रन बनाकर डिंडीगुल ड्रैगन्स की टीम को 127 रन का लक्ष्य दिया। इस छोटे से लक्ष्य का पीछा करने उतरी डिंडीगुल ड्रैगन्स की टीम 9 विकेट पर 114 रन ही जोड़ सकी। और 12 रन से हार गई। पेरियास्वामी ने मैच के अंतिम ओपर में सिर्फ दो रन दिए।