आईसीसी ने एक बार फिर बनाया सचिन तेंदुलकर का मजाक, प्रशंसकों ने दिया करारा जवाब

दुबई : आलराउंडर बेन स्टोक्स ( Ben Stokes ) मौजूदा समय में इंग्लैंड क्रिकेट टीम ( England Cricket Team ) के लिए करिश्माई प्रदर्शन कर रहे हैं। उनके नाबाद 135 रन और जैक लिच के साथ मिलकर किए गए नाबाद 76 रनों की मदद से इंग्लैंड ने हेडिंग्ले में खेले गए तीसरे एशेज टेस्ट मैच में मेजबान ऑस्ट्रेलिया ( Australia Cricket Team ) को एक विकेट से हराकर सीरीज में 1-1 की बराबरी हासिल कर ली है। इससे पहले आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 के फाइनल में भी अकेले दम पर करिश्माई प्रदर्शन कर उन्होंने इंग्लैंड को विश्व कप दिलाने में मदद की थी। उनके इन प्रदर्शनों के बाद वर्तमान और पूर्व क्रिकेटर उनकी तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। आईसीसी ( ICC ) ने भी स्टोक्स की तारीफ में एक ट्वीट किया है, जिस पर विवाद हो गया है। आईसीसी के इस ट्वीट को प्रशंसक सचिन तेंदुलकर ( Sachin Tendulkar ) का अपमान बता रहे हैं।

आईसीसी ने अपने ट्वीट में तेंदुलकर का उड़ाया मजाक

आईसीसी ने बेन स्टोक्स को लेकर किए गए ट्वीट में उनकी तुलना दुनिया के महानतम बल्लेबाजों में से एक सचिन तेंदुलकर से करते हुए उनका मजाक बनाया है। इस ट्वीट में आईसीसी ने बेन स्टोक्स की तस्वीर सचिन तेंदुलकर के साथ शेयर कर कैप्‍शन लिखा है- पहले ही कहा था। दुनिया के सर्वकालिक महानतम क्रिकेटर के साथ सचिन तेंदुलकर। बता दें कि इस तस्वीर को आईसीसी ने विश्व कप फाइनल मैच के बाद भी ट्वीट किया था।

भले टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच नहीं रहे संजय बांगड़, पर आईपीएल में हैं भारी मांग

 

प्रशंसकों ने सुनाया आईसीसी को खरी-खोटी

आईसीसी के इस ट्वीट पर नाराज सचिन तेंदुलकर के प्रशंसकों ने जमकर खरी-खोटी सुनाया। प्रशंसकों का कहना है कि बेन स्टोक्स ने हाल में जिस तरह का प्रदर्शन किया है, उसे नेकर निश्चित रूप से उनकी तारीफ की जानी चाहिए, लेकिन उन्हें दुनिया का महानतम क्रिकेटर कहना उचित नहीं है।

ईशांत शर्मा ने खोला कातिलाना गेंदबाजी का राज, बताया जसप्रीत बुमराह ने दी थी यह टिप्स

ऐसी रही सचिन के प्रशंसकों की प्रतिक्रिया

सचिन के एक प्रशंसक ने तो सचिन तेंदुलकर और बेन स्टोक्स दोनों के आंकड़े लिखकर पूछा कि अब आप बताइए कि किस आधार पर तुलना की। एक और प्रशंसक ने लिखा कि दोनों आईसीसी विश्व कप 2019 के फाइनल और तीसरे एशेज टेस्ट मैच के दोनों के दौरान यकीनन स्टोक्स ने शानदार पारी खेली, लेकिन दोनों मैच वह जिता नहीं पाए थे। इंग्लैंड ने दोनों मैच अंपायर की कृपा से जीते हैं। एक प्रशंसक ने लिखा कि सचिन इससे कहीं बहुत ज्यादा सम्मान के हकदार हैं।